कांग्रेस ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा से इस्तीफे की मांग की है. येदियुरप्पा के परिवार के कुछ सदस्यों पर एक आवास परियोजना के सिलसिले में भ्रष्टाचार के आरोप लगने पर कांग्रेस ने रविवार को बीजेपी पर प्रहार किया और मामले की समयबद्ध न्यायिक जांच की मांग की.

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने रविवार को आरोप लगाया कि कर्नाटक में बीजेपी सरकार भ्रष्टाचार में लिप्त है और दागी नेता शासन कर रहे हैं. सिंघवी ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री में थोड़ी भी शर्म है तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए या उन्हें बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए. उन्होंने येदियुरप्पा के बेटे, दामाद और पोते के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार और रिश्वत के आरोपों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जे. पी. नड्डा की ‘‘चुप्पी’’ पर सवाल उठाए.

मामला बेंगलुरू में 662 करोड़ रुपये की लागत से एक अपार्टमेंट के निर्माण से जुड़ा हुआ है. सिंघवी ने दावा किया कि मीडिया की खबरों में ‘‘बेटे, दामाद और पोते जैसे निकट रिश्तेदारों की परियोजना में भ्रष्टाचार और रिश्वत की संलिप्तता का खुलासा’’ हुआ है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘इससे पूरे देश की चेतना को झटका लगा है लेकिन लगता है कि बीजेपी चेतनाहीन है.’’ सिंघवी ने दावा किया कि कोलकाता में एक फर्जी कंपनी के माध्यम से रिश्वत मांगी गयी और भुगतान किया गया. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार निरोधक कानून और धनशोधन निरोधक कानून लगाया जाना चाहिए और आरोपों की जांच की जानी चाहिए.

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?