कोरोना वायरस भी गजब है. पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है. लाखों लोगों की जान जा चुकी है. इसके साथ ही इस बीमारी ने अर्थव्यवस्था को भी बीमार कर दिया है. इस बीमारी की एक बड़ी खूबी यह है कि ये हर उस व्यक्ति को शिकार बना रहा है, जिसने इसके खिलाफ अनाप-शनाप बयानबाजी की है. यह बात थोड़ी अजीब जरूर है, लेकिन सच है. अब कोरोना ने केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले को अपना शिकार बनाया है, जिन्होंने भारत में ‘गो कोरोना गो’ का अजीबोगरीब नारा दिया था.

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया-ए (आरपीआई) के मुखिया और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले को कोरोना हो गया है. उन्होंने खुद ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है. उन्हें बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह वही रामदास अठावले हैं, जिन्होंने कोरोना महामारी की शुरुआत में ‘गो कोरोना गो’ का नारा दिया था.

रामदास आठवले मार्च के महीने में कोरोना वायरस के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए एक अभियान में शामिल हुए थे. जागरूकता अभियान के दौरान उन्होंने ‘गो कोरोना..गो कोरोना’ के नारे लगाकर कोरोना वायरस को भारत से भगाने की कोशिश की थी. इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था.

रामदास अठावले से पहले ‘भाभी जी का पापड़’ खिला कर लोगों को कोरोना मुक्त करने वाले केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल कोरोना संक्रमित हुए थे. वहीं ‘कीचड़ में नहाने’ और ‘शंख बजाने’ से कोरोना ठीक होने का दावा करने वाला बीजेपी सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया भी कोरोना से नहीं

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?