बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच कर रही केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कहा है कि वह इस मामले की ‘गहन और पेशेवर तरीके’ से जांच कर रही है. इसके किसी भी पहलू को आज तक खारिज नहीं किया गया है. भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा 30 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे गए एक पत्र का जवाब देते हुए सीबीआई ने यह टिप्पणी की. स्वामी ने सुशांत की मौत के मामले में सीबीआई, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा संयुक्त जांच की मांग की थी.

सीबीआई ने स्वामी को लिखे अपने पत्र में कहा कि जांच का जिम्मा लेने के बाद सुशांत सिंह राजपूत की अप्राकृतिक मौत से जुड़ी परिस्थितियों को देखने के लिए अनुभवी जांच अधिकारियों की एक टीम गठित की गई है. वरिष्ठ अधिकारियों के साथ जांच दल ने अलीगढ़, फरीदाबाद, हैदराबाद, मुंबई, मानेसर (गुड़गांव) और पटना- सभी स्थानों का दौरा किया.

इस घटना से संबंधित परिस्थितियों की जांच के लिए जांच दल और वरिष्ठ अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा किया. सीबीआई ने 30 दिसंबर को स्वामी को लिखे अपने पत्र में कहा कि केंद्रीय फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला, सीबीआई, नई दिल्ली के विशेषज्ञ ने भी घटनास्थल का दौरा किया और जांच की. विशेषज्ञों ने सिमुलेशन अभ्यास भी किया. उन्होंने कहा, ‘सीबीआई नवीनतम वैज्ञानिक तकनीकों का उपयोग करते हुए गहन और पेशेवर तरीके से जांच कर रही है. जांच के दौरान, सभी पहलुओं को देखा जा रहा है और किसी भी पहलू को आज तक खारिज नहीं किया गया है.’

एजेंसी ने कहा कि मामले के सभी संबंधित गवाहों के बयान दर्ज किए गए हैं. जांच के दौरान कूपर अस्पताल की मोर्चरी और उनके द्वारा अपनाई गई पोस्टमॉर्टम की प्रक्रिया को समझने के लिए ऑटोप्सी सर्जन के साथ मामले पर भी चर्चा की गई. जांच के दौरान, शिकायतकर्ता और उसके परिवार के सदस्यों द्वारा उठाए गए परिस्थितियों, आशंकाओं को समझने के लिए सभी संबंधित गवाहों और अन्य स्वतंत्र स्रोत से पूछताछ की गई है. बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को 14 जून, 2020 को मुंबई के बांद्रा अपार्टमेंट में मृत पाया गया था.

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?