कोरोना वायरस की जांच करने वाली करीब 5 लाख स्पेशल किट भारत आने वाली थी पहुंच गई अमेरिका

नई दिल्ली

राष्ट्रपति भवन में कोरोना संक्रमण का मामला सामने आया है। इसके बाद राष्ट्रपति भवन के परिसर में रहने वाले 125 लोगों को सेल्फ आइसोलेशन में भेज दिया गया है। जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रपति भवन में रहने वाले व्यक्ति के एक रिश्तेदार की कुछ दिन पहले मौत हो गई थी। यह व्यक्ति उसके अंतिम संस्कार में शामिल हुआ था। रविवार को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

यह व्यक्ति महिला है या पुरुष, इसकी जानकारी नहीं मिल पाई। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में इसे राष्ट्रपति भवन के कर्मचारी की पत्नी बताया जा रहा है। बता दें कि किसी भी इलाके में कोरोना का एक भी मरीज पाए जाने पर पूरे इलाके के लोगों एहतियात के तौर पर क्वारंटाइन करना पड़ रहा है। इधर 21 दिनों के लॉकडाउन के बावजूद मामले बढ़ते दिखे तो इसे 3 मई तक और बढ़ा दिया गया।

एक अधिकारी ने कहा कि करीब दस दिन पहले वह बीमार हुआ था और राम मनोहर लोहिया अस्पताल चेकअप और ईसीजी जांच के लिए गया था। उसे उसी दिन डिस्चार्ज भी कर दिया गया। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि बाद में उसे खांसी, बुखार और शरीर में दर्द, जैसे कोरोना वायरस रोग के लक्षण दिखे। 18 अप्रैल को जांच के लिए वह फिर से राम मनोहर लोहिया अस्पताल गया। इस बार डॉक्टरों ने उसे कोरोना पॉजिटिव पाया। अधिकारी ने कहा कि रविवार (20 अप्रैल) को उसकी रिपोर्ट आई, जिसमें वह कोरोना संक्रमित पाया गया।

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?