नई दिल्ली 

कांग्रेस ने दावा किया है कि देश में लॉकडाउन के पहले चरण में 12 करोड़ नौकरियां चली गईं। कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के संबोधन में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि बेरोजगारी और बढ़ने की संभावना है क्योंकि देश में आर्थिक गतिविधियां ठप हैं। साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार से मांग में कहा कि संकट से उबरने के लिए हर परिवार को कम से कम 7,500 रुपए उपलब्ध कराए जाने चाहिए।

कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक में सोनिया ने कहा कि लॉकडाउन के पहले चरण में ही 12 करोड़ लोग बेरोजगार हो गए और ऐसे में लोगों की मदद के लिए उनके खातों में 7500 रुपये भेजे जाने चाहिए। भाजपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने आरोप लगाया, ‘मैं आप लोगों के साथ वो बात साझा करना चाहती हूं जिसको लेकर हम सभी भारतीय नागरिकों को चिंता करनी चाहिए। जब हमें कारोना वायरस का एकजुट होकर मुकाबला करने चाहिए तो भाजपा सांप्रदायिक पूर्वाग्रह और नफरत का वायरस फैलाने में लगी हुई है।’

सोनिया ने कहा, ‘‘किसान गंभीर कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं। उपज की खरीद की कमजोर और अस्पष्ट नीतियों और बाधित आपूर्ति के मुद्दों का बिना विलंब किए समाधान करने की जरूरत है। खरीफ की फसल के लिए किसानों को सुविधाएं उपलब्ध कराई जानी चाहिए।”

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?