डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन की ओर से अमेरिका के रक्षा मंत्रालय में बड़े पैमाने पर बदलाव किए जा रहे हैं। ऐसे में पेंटागन के असैन्‍य नेतृत्‍व में तेजी से हो रहे बदलाव ने लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं। खबरों के मुताबिक ट्रंप प्रशासन ने पेंटागन के सबसे सीनियर ऑफिसर्स को हटा दिया है।

गौरतलब है कि इससे पहले ट्रंप प्रशासन ने रक्षा मंत्री मार्क एस्पर को उनके पद से हटा दिया था। इस संबंध में डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट में कहा था, “मार्क एस्पर को बर्खास्त कर दिया गया है।” उन्होंने कहा था कि वह उनकी जगह राष्ट्रीय रक्षा आतंकवाद केंद्र के निदेशक क्रिस्टोफर सी मिलर को कार्यवाहक रक्षा सचिव के तौर पर ला रहे हैं। जानकारों का कहना है कि एस्पर की बर्खास्तगी जो बिडेन के राष्ट्रपति पद के शपथ लेने तक के समय में अराजकता बढ़ाएगी।

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से ठीक एक हफ्ता पहले अमेरिकी रक्षा मंत्री एस्पर ने भारत का दौरा किया था। उन्होंने माइक अमेरिकी विदेश मंत्री पॉम्पियो के साथ भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस. जयशंकर के साथ 2 प्लस 2 मंत्रिस्तरीय संवाद में हिस्सा लिया था। वहीं, सीनेट की विदेश संबंध समिति के डेमोक्रेट क्रिस मर्फी ने चेतावनी देते हुए कहा है, “ट्रंप कोरोना काल के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर एक खतरनाक रूप से अस्थिर वातावरण बना रहे हैं।”

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?