मोदी सरकार और बीजेपी का दावा है कि उसने पिछले 6 साल में वो कर दिखाया है, जो पिछले 70 साल में नहीं हुआ है. अब मोदी सरकार ने क्या कारनामे किये हैं, यह तो वही जाने, लेकिन एक ऐसा कारनाम इस राज में जरूर हुआ है, जिससे हर भारतीय का सर शर्म से झुक गया है. भ्रष्टाचार और घूसखोरी के मामले में भारत एशिया में नंबर वन गया है.

भ्रष्टाचार के मामले में भारत की स्थिति एशिया में सबसे बदतर है. भारत में घूसखोरी की दर 39 फीसदी है. जो एशिया में सबसे ज्यादा है.

भ्रष्टाचार पर काम करने वाले ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल ने बुधवार को अपनी रिपोर्ट जारी की है. रिपोर्ट में ये बात सामने आई है कि एशिया में घूसखोरी के मामले में भारत टॉप पर है.

घूसखोरी के मामले में दूसरे स्थान पर कंबोडिया (37 फीसदी) और तीसरे स्थान पर इंडोनेशिया (30 फीसदी) है. वहीं चीन की बात करें तो वहां घूसखोरी की दर 28 फीसदी है.

सर्वे के मुताबिक मालदीव और जापान में घूसखोरी की दर पूरे एशिया में सबसे कम हैं. जहां सिर्फ 2 प्रतिशत लोग ही घूस देते हैं. वहीं बांग्‍लादेश में घूसखोरी की दर भारत के मुकाबले काफी कम 24 फीसदी है, जबकि श्रीलंका में यह 16 फीसदी है.

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?