दिल्ली की अलग-अलग बॉर्डर पर कड़ाके की ठंड में बैठे किसानों को 45 दिन से ज्यादा हो गए हैं। किसानों की मांग है कि सरकार तीन नए कृषि कानून को निरस्त कर दे। किसानों और सरकारों के बीत किसान विरोध प्रदर्शन को लेकर आठ राउंड की बातचीत हो चुकी है। लेकिन उसमें कोई ठोस हल नहीं निकला है। इस बीच आज हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने करनाल में किसान महापंचायत बुलाई थी। जिसका विरोध करने के लिए हजारों की संख्या में किसान पहुंचे थे। हजारों की संख्या में किसान को देखकर प्रशासन का हाथ पैर फूल गए। पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने की कोशिश की लेकिन किसान नहीं माने। पुलिस ने प्रदर्शनकारी किसानों पर ठंडे पानी की बौछार और आंसू गैस के गोले दागे। जिसके बाद वहां की स्थिति तवानपूर्ण बनी हुई है

आप इस स्टोरी के बारे में कुछ कहना चाहते हैं?